Wednesday, February 17, 2010


हमारा प्यार
किसी मेज पर रखा
कोई
कांच का गिलास नहीं ,
जो हवा के झोंके से
गिरकर टूट जायेगा ....
हमारा प्यार
आसमान का
वो सूरज भी नहीं
जो शाम ढले
नदी में गिरकर
बुझ जायेगा ...
हमारा प्यार
वो बरसाती नदी भी नहीं
जो बरसात में बहे
और घाम में
जिसके प्यार की धारा
सूख जाएगी ...
हमारे रिश्ते ने
बोया है एक बीज
जिसे प्यार की नमी से
हमने सींचा है मिलकर
और अब
येपौधा बन कार
लहराता है
हवाओं संग बातें करता है
बस
इसे खाद पानी देते रहना ...


13 comments:

शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' said...

रेनू जी, आदाब.
हमारा प्यार...आसमान का...वो सूरज भी नहीं..जो शाम ढले...
नदी में गिरकर...बुझ जायेगा...
.........बोया है एक बीज...जिसे प्यार की नमी से
हमने सींचा है मिलकर....और अब....ये पौधा.....
बस...इसे खाद पानी देते रहना..!!
संबंधों में दीर्घ मधुरता का संदेश देती..
एक सार्थक रचना.
बधाई.

हृदय पुष्प said...

"हमारे रिश्ते ने
बोया है एक बीज
जिसे प्यार की नमी से
हमने सींचा है मिलकर
और अब
ये पौधा बन कार
लहराता है
हवाओं संग बातें करता है
बस
इसे खाद पानी देते रहना .."
संवेदनशील एवं बहुत खुबसूरत सन्देश देती शानदार रचना - आभार

दिगम्बर नासवा said...

हमारे रिश्ते ने
बोया है एक बीज
जिसे प्यार की नमी से
हमने सींचा है मिलकर ..

सच कहा .. प्यार के बीज को प्यार और विश्वास की खाद मिलती रहे तो ये लहलहाता रहता है .... बहुत खूब लिखा है ...

रश्मि प्रभा... said...

rishton ke anmol bij ko hamari shubhkamnaon ka khaad bhi samarpit hai

apnesapne said...

प्यार के मौसम में प्यार की बात लिखकर अदभुत प्यार का परिचय दिया है अपने...
badhai hai आपको..

डॉ .अनुराग said...

बहुत दिनों बाद आयी ओर उस अहसास को लेकर जिसको समझाना उतना ही मुश्किल है ....जितना समझना

M VERMA said...

सही है प्यार इतना नाजुक भी तो नहीं
प्यार तो एक दृढ़ सफर है

अजय कुमार said...

कुछ भी हो जाये सच्चा प्यार तो लहलहाता रहता है

राज भाटिय़ा said...

बहुत सुंदर रचना प्यार पर
धन्यवाद

काजल कुमार Kajal Kumar said...

ये हुई न बात! अपने प्यार पर भरोसा होना चाहिये. सकारात्मक दृष्टिकोण .

कुश said...

शिद्दत से पिरोया है एहसास को.. एक मुक्कमल ख्याल का मुक्कमल रिश्ता.. बहुत खूब!

JHAROKHA said...

हमारे रिश्ते ने
बोया है एक बीज
जिसे प्यार की नमी से
हमने सींचा है मिलकर
और अब
येपौधा बन कार
लहराता है
हवाओं संग बातें करता है
बस
इसे खाद पानी देते रहना ...

Bahut sundar aur samvedanatmak panktiyan.
Poonam

anjana said...

बहुत बढिया..